विधायक अमनमणि त्रिपाठी को सीएम योगी की तरफ से उत्तराखंड जाने के लिए नहीं मिली थी कोई अनुमति, यूपी सरकार ने दी सफाई

0
191

लखनऊ. यूपी की महाराजगंज जिले की नौतनवा सीट से निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी (Independent MLA Aman Mani Tripathi) की मुश्किलें आने वाले समय में बढ़ सकती हैं. बताना चाहते हैं कि उन्हें चमोली जिला प्रशासन ने जब चेकिंग के दौरान रोका था और उस दौरान उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा अनुमति देने का जो दावा किया था उसे यूपी सरकार ने खारिज कर दिया है. इस पुरे मामले पर यूपी सरकार (Uttar Pradesh Government) ने अपना पक्ष रखते हुए बयान दिया है. सरकार का कहना है कि विधायक अमनमणि त्रिपाठी ने ये सब स्वंय किया है. साथ ही उन्हें सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की तरफ से कोई अनुमति नहीं दी गई है. इससे पहले प्रशासन ने लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने के आरोप में उनके खिलाफ मामला दर्ज किया हुआ है.null

बता दें कि निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी के खिलाफ उत्तराखंड के टिहरी जिले में केस दर्ज हुआ है.उनपर आरोप है कि वे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के स्वर्गीय पिता के पितृ कार्य में शामिल होने का हवाला देकर बद्रीनाथ-केदारनाथ जा रहे थे. लेकिन प्रशासन ने उन्हें चमोली जिले से पहले ही रोका और वापस भेज दिया.

ANI का ट्वीट-

उल्लेखनीय है कि इससे पहले विधायक अमनमणि अपने 10 साथियों के साथ तीन गाड़ियों के काफिले के साथ रविवार को बदरीनाथ-केदारनाथ धाम जा रहे थे लेकिन चमोली जिला प्रशासन ने उन्हें रास्ते में चेकिंग के दौरान रोका. इसके साथ ही प्रशासन ने उन्हें बद्रीनाथ के कपाट नहीं खुलने का हवाला देते हुए वापस भेज दिया. विधायक सहित 10 लोगों के खिलाफ पुलिस ने लॉकडाउन के उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया है.

Source-Latestly

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here